Friday, June 1, 2012

यूपी बजट 2012: वादों और इरादों का मेल


लखनऊ। उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार ने शुक्रवार को अपना पहला बजट पेश किया। कुल दो लाख 10 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया गया। इसमें चुनावी वादों को पूरा करने के साथ-साथ कुछ आधारभूत लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए प्रयास दिखता है। पिछले बजट की तुलना में यह 18 प्रतिशत अधिक है। 13 हजार 650 करोड़ की कुल 280 योजनाएं लाई जाएंगी। चिकित्सा सुविधाओं के लिए 7033 करोड़ का प्रावधान किया गया है। वादों को पूरा करने की दिशा में छात्रों को लैपटॉप और टैबलेट के लिए 2720 करोड़ की बात बजट में है। पेट्रोल पर सभी की नजरें थीं, लेकिन वैट में कोई कटौती नहीं हुई, लिहाजा लोगों को इसमें राहत नहीं मिल सकी। दिलचस्प बात यह भी रही कि पूर्ववर्ती माया सरकार में चल रही योजनाओं के नाम अब सपा के नेताओं के नाम पर रख दिए गए हैं।
मुख्य बातें:-
1. दो लाख 10 हजार करोड़ रुपये का बजट
2.13 हजार 650 करोड़ की कुल 280 योजनाएं
3. चिकित्सा सुविधाओं के लिए 7033 करोड़
4. पेट्रोल नहीं होगा सस्ता [वैट में कटौती नहीं]
5. टैबलेट के लिए 302 करोड़ रुपये और लैपटॉप के लिए 2418 करोड़ रुपये
6. सौर ऊर्जा के लिए 100 करोड़ रुपये
7. आसरा योजना के लिए 100 करोड़ रुपये
8. बैटरी रिक्शा के लिए 100 करोड़ [गरीब रिक्शे वालों को मिलेगा लाभ]
9. बुंदेलखंड के किसानों के लिए 900 करोड़
10. किसान बीमा एक लाख से बढ़ाकर पांच लाख
11. लोहिया आवास योजना की होगी शुरुआत
12. अल्पसंख्यक कल्याण के लिए 274 करोड़
13. चुनावी वायदों को पूरा करने के लिए 2700 करोड़

By : Sonu Pandit // 12:03 AM
Kategori:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Recent_comments

 

Followers

Powered by Blogger.